नमस्कार दोस्तो क्या हाल हैं आपके? आशा हैं आप सब स्वस्थ होंगे.  कोरोना महामारी के चलते आप सब जीतना हो सके उतना सुरक्षित रहने कि कोशिश करे. यदि आप सावधानियां नहीं बरतेंगे तो इससे आपको भी
खतरा हो सकता हैं और आप दूसरो को भी खतरे में डाल सकतें हैं.  तो चलिए कोरोना के बारे में और अधिक जानते हैं...........

कोरोना कि शुरुआत 



यह तो हम सब ही जान चुके हैं कि इस महामारी का पहला मामला चीन से आया था. और इसकी फैलने कि शूरूआत दिसंम्बर 2019 से हूई जिसके चलते कोरोना को कोविड-19 कोरोना वायरस नाम दिया गया.

कोरोना वायरस बहुत सूक्ष्म होते हैं 



आपको बता दू कि कोरोना वायरस वैसे तो बहुत सूक्ष्म होते है. लेकिन इसका प्रभाव मानवो पर बहूत घातक होता है. हम सभी जानते हैं कि कोरोना का संक्रमण दुनिया भर में तेजी से फ़ैल रहा है. कोरोना वायरस के संक्रमण से मरने वाले लोगों की संख्या लाखों में पहुँच चुकी हैं.

यदि किसी व्यक्ति को कोरोना हैं और आप उस व्यक्ति के संम्पर्क में आ जाते हैं,  तो आपको कोरोना संक्रमण हो सकता है. 

कोरोना का कोई इलाज नहीं




दुनियां भर के समझदार महान लोगों द्वारा खोजे जाने पर भी कोरोना का इलाज अभी तक नहीं मिल पाया हैं. फिलहाल मलेरिया बुखार के इलाज में उपयोग में लाने वाली दवा से कोरोना संक्रमित मरिज़ो इलाज किया जा रहा है.

कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए


  1. साबुन से बार-बार हाथ जरूर धोएं. 
  2. अगर कोई खांस या छींक रहा है, तो उससे उचित दूरी बनाए रखें.
  3. अपनी आंखें, नाक या मुंह को न छुएं.
  4. खांसने या छींकने पर अपनी नाक और मुंह को ढक लें.
  5. आपको बुखार, खांसी है, और सांस लेने में परेशानी हो रही है, तो डॉक्टर के पास जाएं.

ध्यान रहे... 

हमें हाथों को साबुन से बार-बार धोना चाहिए. हाथो को साफ रखने के लिए अल्‍कोहल आधारित हैंड रब का इस्‍तेमाल भी किया जा सकता है. खांसते और छीकते समय नाक और मुंह में रूमाल या टिश्‍यू पेपर जरूर रख़ें. 


Post a Comment

Previous Post Next Post