नमस्कार दोस्तो आज हम फिर आपके लिए नई कहानी लेकर आये है. इस कहानी मे आपको प्यार, धोखा, शादी जैसे  सब तरह का भाग पढ़ने को मिलेगा, तो चलिए कहानी का पहला भाग शुरू करते है.




दोस्तो ये कहानी है एक 18 साल की लड़की की जिसने अपनी इतनी सी ज़िंदगी मे सारे अनुभव पा लिए थे. ये लड़की देखने मे बहुत सीधी और भोलि नज़र आती थी मानो उसे दुनियाँदारी की कोई समझ ही न हो, मासूम सा चेहरा बड़ी भोलि सी लगती थी. वो अपने माता पिता की लाडली थी. वैसे तो उसके 4 भाई और बहन और थे लेकिन पिता का प्यार उसे ज्यादा मिलता था. उसे उसके पिता सब बच्चों मे सबसे अधिक प्रेम करते.

वह अपने पिता से जो भी कहती पिता तुरंत मान जाते लेकिन दूसरे बच्चे जो भी मांगते उनके पिता हाँ तो कह देते लेकिन पूरा नही करते बस ऐसे ही चलता रहता. ये लड़की बड़ी ज़िद्दी स्वभाव की थी और घमंड की भी धनी थी. बहुत खर्च करने का शौक रखने वाली थी. वह  किसी की भी बराबरी करने की कोशिश करती थी. किसी पड़ोसी ने अच्छे कपड़े ले लिए तो वह भी तुरंत ले आती, उसमे जलन भाव भी बहुत था. उस के पिताजी मध्यम वर्ग के थे . उसको इतना पैसा कहा से दे पाते जिससे वह अपनी ऐयाशी पूरी कर सके, जिसके चलते उसने गलत काम भी शुरू कर दिये थे जो हम आपको आगे कहानी मे सुनाएंगे.

पढाई के मामले मे एक नम्बर की गधी थी. माता पिता ने उसे पढ़ाने की काफी कोशिशे की लेकिन वह 10वी भी पास न हो पाई. आखिरकार हार मान कर उसके पिता ने उसे एक दुकान पर काम करने के लिए लगा दिया. वह वहा काम करने जाने लगी. उनका घर किराये का था जहाँ वह काफी साल रहे. दुकान भी घर के पास ही था. 



एक दिन एक लड़का उसकी दुकान पर आया कुछ समान लेने. दोनों की नज़रे टकराई  और दोनों एक दूसरे को देखने लगे. समान लेकर लड़का वापस चला गया. अब वह किसी भी बहाने से दुकान पर रोज आने लगा. जब भी वह आता दुकान पर लड़की खुश हो जाती बस ऐसा ही कुछ समय तक चलता रहा. लड़का वैसे उससे उम्र मे काफी बड़ा था.लड़का पढाई करता था और इस शहर मे अकेले रहता था. उसके माता पिता गांव मे रहते थे. वह दोनों आपस मे मिलने लगे थे और घंटो घंटो बाते भी किया करते ऐसा काफी साल चलता रहा. 

एक दिन उसके पिताजी बोले की मैने घर खरीद लिया है अब हम उधर ही सिफ्ट हो जायेंगे. इतना सुनते ही लड़की घबरा गई के अब क्या होगा मेरे प्यार का हम कैसे मिलेंगे. वहा से जो घर उनके पिताजी ने लिया था वह काफी दूर था . उपर से लड़की को अपनी दुकान की नौकरी भी छोड़नी पड़ी तो  उन दोनों के मिलने के सारे रास्ते बंद हो गए थे. इसके बाद की कहानी भाग 2 मे  पढ़िये ........ 

Post a Comment

Previous Post Next Post